जीजू की बहन बनी मेरी रंडी


हेलो दोस्तो मेरा नाम रवि है और आज मैं आप के सामने एक मस्त कहानी ले कर आया हूँ. तो चलिए अब कहानी शुरू करते है. मुझे पूरी उमीद है आप को मेरी ये वाली कहानी भी ज़रूर पसंद आएगी. तो अब मज़ा लेने के लिए तैयार हो जाइये.

दोस्तो ये बात आज से 8 महीने पहेले की है. जब मेरे जीजू ने मुझे अपने साथ मुंबई रहने और जॉब के लिए बुलाया था. मेरी बड़ी बहेन पूनम की शादी मुंबई मे हुई थी. मेरे जीजू पवन एक बड़ी इंटरनॅशनल कंपनी मे जॉब करते थे. और उनकी बहोत अच्छी सैलरी थी जिससे उन्हे किसी भी तरह की कोई भी कमी नही थी.

जब मैने अपनी स्टडी पूरी कर ली थी तो मैं जॉब के लिए इधर उधर धक्के खा रा था. तब जीजू ने मुझे अपने पास बुला लिया था. उनके घर मे उनके मम्मी पापा और जीजू और दीदी ही रहते थे. काफ़ी खुशियो से भरी हुई फैमिली थी उनकी. घर मे सुबह होते ही जीजू और पापा दोनो अपने अपने ऑफीस चले जाते थे. और मम्मी भी अपने बाहर के काम करने के लिए चली जाती थी.

अब मैं और दीदी घर पर एक दम अकेले रहते थे. मैं भी इधर उधर जॉब ट्राइ कर रा था पर अभी तक कोई बात नही बनी थी. अभी मुझे उनके घर आए हुए सिर्फ़ 8 दिन ही हुए थे की तभी जीजू की बहेन पायल वाहा पर रहने के लिए आ गई. दरासल पायल की शादी हो रखी है पर उसकी अपने पति से लड़ाई हो रखी है इसलिए वो यहाँ कुछ दिन रहने के लिए आई हुई है.

दोस्तो मैं पायल के बारे मे अब आप को क्या बताऊ. उसकी उमर 28 साल की होगी और उसके जिस्म का तो मैं उसे देखते ही दीवाना सा हो गया था. उसका फिगर कुछ ऐसा था की 36-28-38. उसके जिस्म मे उसके बूब्स और गांड कपड़ो को फाड़ने वाले हो जाते थे.

एक दिन की बात है दोस्तो रात का टाइम था मैं अपने रूम मे जा रहा था की तभी मेरी नज़र पायल के रूम मे गयी उसका दरवाजा थोड़ा सा खुला था. अंदर का नज़ारा देख मैं पागल सा हो गया. अंदर पायल अपने कपड़े उतार कर नाइट सूट डाल रही थी.

वो पूरी नंगी थी जिसे देख कर मैं पागल हो गया. क्या कमाल के बूब्स जो एक दम सॉफ्ट और गोरे थे. और नीचे उसकी चिकनी गांड और चूत ने मेरे लंड को पागल कर दिया था. मैं उसे देखने लग गया जब उसे एहेसास हुआ की उसे कोई देख रहा है तो मैं झट से वहाँ से भाग कर पास वाले बाथरूम मे घुस गया. और बाथरूम मे अपना लंड निकाल कर ज़ोर-ज़ोर से मूठ मारने लग गया. मेरी आ आहह की आवाज़ें बाथरूम से बाहर जा रही थी.

जब मैं शांत हुआ तो मुझे ऐसा लगा की कोई बाहर खड़ा था और वो अभी गया है. मेरी गांड फट सी गयी पर मैं हिम्मत करके बाहर आ गया. तभी लाइट चली गयी और मैं दीदी और पायल बाहर बाल्कनी मे चेयर पर बैठ गये, तभी मैने महसूस किया की पायल का पैर मेरे टांग से होते हुए मेरे लंड की और बढ़ रहा है. मैं सम्झ गया की आज पायल ने मुझे ये सब करते हुए देख लिया है. तभी लाइट आ गयी और उसने झट से अपना पैर हटा लिया और मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लग गयी.

Comments 0

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


antarvasna sexstorieshindisexstorybhai bahan antarvasnaantarvasna long storysex kahaniyanhardcor sexjija in englishantarvasna hindi new storychut ki chudaisex with chachinew desi sex storiesantaravasanadesi xossipsavita bhabhi sex stories????? ?????tamanna sex storieshindi adult storysex storyssex stories bengalihindi sex kahaniyanhot sex storiessex kahaniyaporn antarvasnahot sister sexhindisexystoryfamily sex storynon veg storiesantarvasna storiesantarvasna doodhsex with tailorkamukata storysasur antarvasnaantarvasna ganduantarvasna story hindi mebhai behan sexchudai ki kahaniyabehan ki chudaiantarvasna sex hindiantarvasna hindi videowww.sex story.commarathi sexy storiesantrvasnasexy stories in englishamma sex storieschudai khaniyaantarvasna sexstoriessexi storydesi srxsasur ne bahu ko chodaantarvasna with photossasur ne choda??? ?? ?????antarvasna .comantarvasna balatkarxossip sex storiesdesi secfamily sex storysex with cousinindian gay sex storyantrvasnaantarvasna 2013bhabhi ki chutxossip hindihindi font sex storiesmaa bete ki antarvasnagujarati sex storiesantarvasna baapbibi ki chudaiantarvasna picsantarvasna bhabhiindian sex storiehot hindi sex storyantarvasna desisexey girlssex khaniyahindi story sexmother son sex storiesantarvasna new kahani